मेरा स्वर्ग आपके चरणों में

16997752_1858507464438533_7481963455468606692_n

ईश्वर;
कौन है?
इससे लोगो का तात्पर्य
एक चमत्कारी शक्ति से है|

वास्तव में कहे तो
माता-पिता ही ईश्वर है
क्योकि वो ही है हमारे इस संसार में आने की वजह
वो नहीं तो कुछ नहीं|

पिता भगवान है तो
तो माता के चरणों में स्वर्ग दिखता है
अगर सच्ची आस्था रखो तो
ये दोनों हमारे जीवन के एक म्ह्त्वपूण स्तम्भ है|

इन स्तम्भ के बिना
जीवन की कल्पना असंभव है
ये ही तो जीवन में आगे बढने का ज़रिया है
इनके गिरने से जीवन के सभी सपने चूर चूर हो जाते है|

खुशनसीब है वो
जिनके जीवन में
माता-पिता का साया है
क्योकि कुछ लोग तो बस कल्पना ही करते है|

माता-पिता ही तो
सुख-दुःख में आपका साथ देते है|
ये ही तो जीवन के
हर कष्टों का निवारण करते है|

16806946_1858665331089413_3788286066838470188_n

ऋषिका सृजन

–XxXxX–

©All Rights Reserved
© Rishika Ghai

image courtesy google

Advertisements