मेरी नानी, मेरी जान

IMG-20141105-WA0041

दुनिया में माँ से बढ़कर
कोई नहीं होता
पर मेरे लिए मेरी पूरी दुनिया
मेरी नानीमाँ है
जितना प्यार माँ से करती हूँ
उससे कहीं ज्यादा नानीमाँ से करती हूँ|

कहते है माँ का स्थान सबसे ऊँचा होता है
पर मेरे जीवन में वह स्थान
नानीमाँ को प्राप्त है
जीतना प्यार में उनसे करती हूँ
उतना ही वो भी मुझसे करती है|

नहीं तो कौन सी ऐसी नानी होगी
जो बूढ़ापे में अपनी नाती को
अपनी बेटी से बढ़कर प्यार दे
रात दिन उसकी सेवा करे
उसे पाल पोसकर जीवन के लिए तैयार करे |

जब-जब मुझे लगा में जीवन
के संधर्श में हार रही हूँ
तब-तब नानी मेरा सहारा और
मुसीबत से लड़ने की ताकत बनी
और मुसीबत का डट कर सामना किया|

मुझे हिंदी भाषा से डर लगता था
हरदम मै उससे दूर भागती थी
पर आज जो मैने हिंदी में बी.ए किया
और ढ़ेरो कविताएँ लिखी उसका
श्रेय मेरी नानी को जाता है|

मेरा जीवन आपके बिना अधुरा है
नानी, आप हो तो मैै हूँ
भगवान से मिली एक अमूल्य भेंट हो
आपका अस्तित्व सदैव मेरे जीवन का अटूट अंग रहेगा|  

ऋषिका सृजन 

–XxXxX–

©All Rights Reserved
© Rishika Ghai

image courtesy google

Advertisements

4 thoughts on “मेरी नानी, मेरी जान

  1. ऋषिका आप तो मेरे दिल की धड़कन और ऑखो का तारा हो।आपने हमे सबसे पहले नाना नानी बनने का गर्व दिया ।इससे बड़ा और कोई सुख नहीं।आपने हमारी सूनी जिन्दगी में रस भर दिया God bless u my love be always like this nana nani ka Sahara

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s